Go to content Go to menu
 


राठोड़ो का सम्पूर्ण इतिहास RATHORE HISTORY

 राठोड़ों की सम्पूरण खापें और उनके ठिकाने जोधा ,कोटडिया ,गोगादेव ,महेचा ,बाड़मेरा ,पोकरणा राडधरा ,उदावत ,खोखर ,खावड़ीया ,कोटेचा ,उनड़, इडरिया ,

राठोड़ों की प्राचीन तेरह खापें थी | राजस्थान में आने वाले सीहाजी राठोड दानेश्वरा खाप के राठोड़ थे | सीहाजी के वंशजो से जो खांपे चली वे निम्न प्रकार है |
 
1. इडरिया राठोड़ :-  सोनग ( पुत्र सीहा ) ने इडर पर अधिकार जमाया | अतः इडर के नाम से सोनग के वंशज इडरिया राठोड़ कहलाये |
2. हटूकिया राठोड़ :-  सोनग के वंशज हस्तीकुण्डी ( हटुंडी ) में रहे | वे हटूंडीया राठोड़ कहलाये | जोधपुर इतिहास में ओझा लिखते हे की सीहाजी से पहले हटकुण्डी में राष्ट्र कूट बालाप्रसाद राज करता रहा | उसके वंशज हटूंणडीया राठोड़ हे | परन्तु हस्तीकुण्डी शासन करने वाले राष्ट्रकूटों ( चंद्रवंशी ) का कोई वंशज नजर नहीं आता है |  ( दोहठ ) राठोड़ - सीहा राठोड़ के बाद कर्मशः सोनग , अभयजी , सोहीजी , मेहपाल जी , , भारमल जी , व् चूंडारावजी हुए चूंडाराव अमरकोट के सोढा राणा सोमेश्वर के भांजे थे | इनके समय मुसलमान ने जोर लगाया की अमरकोट के सोढा हमारे से बेटी व्यवहार करें | तब चूंडाराव जो उस समय अमरकोट थे | इनकी सहायता से मुसलमान की बारातें बुलाई गयी एवं स्वयं इडर से सेना लेकर पहुंचे सोढों और राठोड़ों ने मिलकर मुसलमानों की बरातों को मार दिया | उस समय वीर चूंडराव को दू:हठ की उपाधि दी गयी थे अतः चूंडराव के वंशज दोहठ कहे गए |  ये राठोड़ , अमरकोट , सोराष्ट्र , कच्छ , बनास कांठा , जालोर , बाड़मेर , जैसलमेर , बीकानेर जिलों में कहीं - कहीं निवास करते रहे है |
 
3. बाढ़ेल ( बाढ़ेर ) राठोड़ :-  सीहाजी के छोटे पुत्र अजाजी के दो पुत्र बेरावली और बीजाजी ने द्वारका के चावड़ो को बाढ़ कर ( काट कर ) द्वारका ( ओखा मंडल ) पर अपना राज्य कायम किया | इसी कारन बेरावलजी के वंशज बाढ़ेल राठोड़ हुए | आजकल ये बाढ़ेर राठोड़ कहलाते है | गुजरात में पोसीतरा , आरमंडा , बेट द्वारका बाढ़ेर राठोड़ों के ठिकाने थे |
 
4. बाजी राठोड़ :-  बेरावल जी के भाई बीजाजी के वंशज बाजी राठोड़ कहलाये है | गुजरात में महुआ , वडाना, आदीइनके ठिकाने हे | बाजी राठोड़ आज भी गुजरात में हि बसते है |
 
5. खेड़ेचा राठोड़ :- सीहा के पुत्र आस्थान ने गुहिलों से खेड़ जीता | खेड़ नाम से आश्थान के वंशज खेड़ेचा राठोड़ कहलाते है |
6. धुहड़ीया राठोड़ :-  आस्थान के पुत्र धूहड़ के वंशज धुहड़ीया राठोड़ कहलाये |
7 . धांधल राठोड़ :- आस्थान के पुत्र धांधल के वंशज धांधल राठोड़ कहलाये | पाबूजी राठोड़ इसी खांप के थे | इन्होने चारणी को दीये गए वचनानुसार पणीग्रहण संस्कार को बीच में छोड़कर चारणी के गायों को बचाने के प्रयास में शत्रु से लड़ते हुए वीर गति प्राप्त की|  यही पाबुजी लोक देवता के रूप में पूजे जाते है |
 
8. चाचक राठोड़ : - आस्थान के पुत्र चाचक के वंशज चाचक राठोड़ कहलाये |
9 . हरखावत राठोड़ :- आस्थान के पुत्र हरखा के वंशज
10. जोलू राठोड़ :- आस्थान के पुत्र जोपसा के पुत्र जोलू के वंशज
11 . सिंधल राठोड़ :- जोपसा के पुत्र सिंधल के वंशज | ये बड़े पराक्रमी हुए | इनका जेतारण पाली पर अधिकार था | जोधा के पुत्र सूजा ने बड़ी मुश्किल से उन्हें वहां से हटाया |
12. उहड़ राठोड़ :- जोपसा के पुत्र उहड़ के वंशज
13 . मुलु राठोड़ :- जोपसा के पुत्र मुलु के वंशज
14 बरजोर राठोड़ :- जोपसा के पुत्र बरजोड के वंशज
15. जोरावत राठोड़ :- जोपसा के वंशज
16. रेकवाल राठोड़ :- जोपसा के पुत्र राकाजी के वंशज है | ये मल्लारपुर , बाराबकी , रामनगर , बड़नापुर , बहराईच उतरापरदेश में है |
17. बागड़ीया राठोड़ :- आस्थान जी के पुत्र जोपसा के पुत्र रैका से रैकवाल हुए | नोगासा बांसवाड़ा के ऐक स्तम्भ लेख बैसाख वदी 1361 में मालूम होता हे की रामा पुत्र वीरम सवर्ग सिधारा | ओझाजी ने इसी वीरम के वंशजों को बागड़ीया राठोड़ माना है | क्यूँ की बांसवाड़ा का क्षेत्र बागड़ कहलाता था |
 
18. छप्पनिया राठोड़ :- मेवाड़ से सटा हुआ मारवाड़ की सीमा पर छप्पन गाँवो का क्षेत्र छप्पन का क्षेत्र है | यहाँ के राठोड़ छप्पनिया राठोड़ कहलाये | यह खांप बागदीया राठोड़ों से निकली है | उदयपुर रियासत में कणतोड़ गाँव की जागीरी थी |
19. आसल राठोड़ :- आस्थान के पुत्र आसल के वंशज आसल राठोड़ कहलाये |
20. खोपसा राठोड़ :- आस्थान के पुत्र जोपसा के पुत्र खीमसी के वंशज |
21. सिरवी राठोड़ :- आस्थान के पुत्र धुहड़ के पुत्र शिवपाल के वंशज |
22. पीथड़ राठोड़ :- आस्थान के पुत्र पीथड़ के वंशज |
23. कोटेचा राठोड़ :- आस्थान के पुत्र धुहड़ के पुत्र रायपाल हुए | रायपाल के पुत्र केलण के पुत्र कोटा के वंशज कोटेचा हुए | बीकानेर जिले में करनाचंडीवाल , हरियाणा में नाथूसरी व् भूचामंडी , पंजाब में रामसरा आदी इनके गाँव है |
 
24. बहड़ राठोड़ :- धुहड़ के पुत्र बहड़ के वंशज |
25. उनड़ राठोड़ :- धुहड़ के पुत्र उनड़ के वंसज
 
 
ज्यादा ज्यादा जानकारी के लिए सुरेन्द्र सिंह तेजमालता का ब्लॉग देखे www.rajputanaitihas.blogspot.in
 

Comments

Add comment

Overview of comments

Jai rajputana

(गोपाल सिंह राठोड़, 2016-08-21 12:40)

ठिकाणा - भांवता
जिला - अजमेर

Jai Rajputana

(Rathod Rajdeepsinh, 2016-10-05 12:24)

Jay Bhavani

Jai Rajputana

(Abhay pratap singh Rathod, 2016-09-26 19:07)

Muje Apna itihaas pdke muje bhot achaa lga....jai bhawani..

Rathod

(Lucky , 2016-09-19 15:58)

Rathore

(Ghewar Singh, 2016-08-29 08:14)

Jay Rajputana

Dhandhal sipla jaisalmer

(Magsingh dhandhal rathore sipla jaisalmer, 2016-08-22 06:20)

Rao asthan ke putr dhandhal ke potr asdharji ke vansanj magsingh rathore
Village sipla
Dist.jaisalmer
State rajasthsn
Country india
Old village name polji ki deyri ke pas kariyap jaisalmer me tatha isme pabuji rathore ka purana
Temple bans hua hai jo 1500 me bana tha
Sipla me bhi shree pabuji ka badha tample hai


shakha

(arvind, 2016-07-31 09:09)

Kotariya Rathod shakha kyathi padi

garv is rathore

(manish singh, 2016-07-21 22:56)

sandil gotra

jay rajputana

(amit singh rathod, 2016-05-31 06:06)

Jay rajputana

Ahmedabad. .nikol road. indrajeet society

(Karansinh M Rathod. , 2016-05-08 14:09)

Rathod Ranbanka suryavanshi. Hame garv he k hum RAJPUT he. Jay Rajputana. JAY MATAJI.

pallchar

(bhavesh sinh rathod, 2016-04-06 08:48)

jaymatji. Ham nahi etyash boltah rajputsa bharmada doltahi

zala rajaput

(zala narendra sinh, 2016-04-06 08:35)

Jay mataji

pallchar

(bhavesh sinh rathod, 2016-04-06 08:30)

Àtposta pallchar

sandil gotr

(mukesh, 2016-03-25 15:02)

sandil gotr kausi rathore hai

9824346975 my whatsapp no

(JaydipsSinh Vaghela, 2016-01-25 08:42)

Rajputo ki jitni bhi History mila muje whatsapp pa send karo olz

jay pabuji rathore

(Hadamat Singh Rathore Odhava, 2015-11-29 04:45)

ALL THE BEST MY RAJPUTANA SATET

jai matadi

(dharmendrasinghrathor, 2015-09-27 08:37)

Sbhi rajput sardaro ko koti koti nman apka brother dharmendrasinghrathor

About Rajput

(Arjun Singh Rathore, 2015-08-19 12:25)

Hi,
(Koti Koti Naman All Rajput)
I am Arjun Singh Rathore. (Suryavanshi Gotra Gutam Ranbanka)
Permanent Add:-Vill & Post. Marvad Jodhpur Rajasthan
Cuurent Add:- Vill. Pure Runjeet Singh Post. Mohna
Dist. Gonda U.P.
Cell No. 08726760003
E-mail:-dr.arjun86@rediffmail.com

I WANT TO BE WEB SITE MEMBER

(KISHAN SINGH RATHORE , 2014-01-13 15:25)

I AM A RATHORE RAJPUT. I VERY INTERRESTED YOUR WEBSITE.
SO I WANT MEMBERSHIP OF YOUR WEBSITE.
AGAR KUCH NA HO SAKE TO BHI MUJE IS WEBSITE PAR ROYAL IMAGE UPLOAD KARNE KA RASTA JARUR BATANA .
TUMHARA CHOTA RAJPUT BHAI
KISHAN SINGH

Re: I WANT TO BE WEB SITE MEMBER

(abe chutiye, 2015-08-08 11:02)